महिलाओं को गर्भवती बनाने के लिए पुरुष की अक्षमता को पुरुष बांझपन (Male Infertility) के रूप में जाना जाता है।

पहले के दिनों में बांझपन महिलाओं के साथ जुड़ा हुआ था लेकिन हाल के अध्ययनों से पता चला है कि गर्भावस्था की विफलता के लिए पुरुष भी जिम्मेदार हो सकते हैं 

सफल गर्भावस्था की संभावना को बढ़ाने के लिए पुरुष और महिला दोनों में प्रजनन क्षमता पर विचार करने की आवश्यकता है क्योंकि यह दोनों के लिए समस्या हो सकती है। हालाँकि पुरुष शिशु के लिए अनिच्छुक व्यवहार दिखाते हैं लेकिन गर्भाधान के लिए समस्या और इसके कारणों को समझने की आवश्यकता है।

आमतौर पर पुरुषों की प्रजनन क्षमता उनके स्पर्म की क्वालिटी और संख्या पर निर्भर करती है। यदि सेक्स के दौरान स्खलित होने पर पुरुष के स्पर्म कम संख्या में निकलते हैं और कमजोर होते हैं तो इस स्थिति में महिला को प्रेगनेंट होने में कठिनाई होती है

पुरूष बांझपन के कितने प्रकार होते हैं? (Types of Male Infertility)

 

 

 

पुरूष बांझपन के कारण (Causes of Male Infertility)

पुरूष बांझपन के कई कारण हो सकते है जिनमे से सबसे आम कारण निचे दिए हुए है । 

वेरिकोसिल (varicocele) नसों में एक प्रकार का सूजन है जिसके कारण पुरुष का वृषण (testicle) या अंडकोष सूख जाता है और वे बांझपन के शिकार हो जाते हैं। यह समस्या होने पर स्पर्म कमजोर हो जाते हैं।

पुरुषों के गुप्तांगों में इंफेक्शन होने से भी उन्हें बांझपन की समस्या हो सकती है। इन्फेक्शन मै Bacterial, Viral & Mumps है, अगर ये इन्फेक्शन हुए है तो स्पर्म की मात्रा और गुणवत्ता दोनो में असर करते है 

और आपको कही चोट लगी हो बचपन मै, रेडिशन से एक्सपोज़ हुए हो, पेल्विस की सर्जरी करवाही हो

 

 

पुरूष बांझपन के कुछ कारण ऐसे भी है जो जीवनशैली से जुडी है।

जैसे की, 

 

पुरूष बांझपन के इलाज (Treatment of Male Infertility)

बांझ पुरुष के मूल्यांकन में वीर्य विश्लेषण (semen analysis) एक महत्वपूर्ण है पुरूष बांझपन की समस्या का निवारण के लिए |

पुरूष बांझपन की समस्या के उपचार के लिए सबसे पहले वीर्य विश्लेषण करवाए ताकि डॉक्टर आपको सही सुझाव दे सके | यदि शुक्राणु की मात्रा की कमी होगी तो जीवनशैली में बदलाव लाने से, अच्छी गुणवत्ता वाला खाना भी शुक्राणु की मात्रा बधाई जा सकती है।

पुरूष बांझपन के इलाज में आपको कही एंटी-बायोटिक, मल्टीविटामिन & जिंक वाली दवाये दी जाएगी। जो आपको कम से कम 72 दिन तक लेनी चाहिए।  उसके बाद आपको इन्फेक्शन मालूम पड़ता है तो एंटी-बायोटिक दवाये दी जाती है।  यदि varicocele मालूम पड़ता है तो सर्जरी की सलाह दी जाती है ताकि और अच्छा रिजल्ट मिल सके। 

 

 

 

जीवनशैली और खाने में परिवर्तन करके भी पुरूष बांझपन को काफी हद तक सुधारा जा सकता है। 

जैसे की, 

 

यदि आप ये सब फॉलो करते है तो आपको नैचुरली ही Conceive कर पायेंगे और यदि आप फिर भी Conceive नहीं कर पा रहे तो Gynecologist को जरूर से बताये वो आपको सबसे बढ़िया विकलप सुझाव करेंगे । जैसे की Treatment through Medicine, IUI Treatment & IVF Treatment. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *